नई दिल्ली। देवभूमि हरिद्वार की पावन धरती पर 22-23 मार्च को होने वाले अखिल भारतीय प्रधान संगठन के राष्ट्रीय सम्मेलन को कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। शंकराचार्य अनंत श्री विभूषित स्वामी अच्युतानंद जी महाराज की अध्यक्षता में होने वाले इस दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि उत्तराखंड के मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शामिल होने वाले थे। सम्मेलन के स्थगित होने की जानकारी प्रधान संगठन के राष्ट्रीय संयोजक कृष्ण कुमार झा ने दी।

उल्लेखनीय है कि कृष्ण कुमार झा प्रधान संगठन का राष्ट्रीय संयोजक होने के साथ ही साथ देश के जाने माने राजनीतिक रणनीतिकार भी हैं। प्रधान संगठन की लड़ाई लड़ते हुए ग्राम स्वराज जागृति अभियान को राष्ट्रीय फलक देने का श्रेय कृष्ण कुमार को जाता है। झा ने सम्मेलन के स्थगित होने की जानकारी देते हुए पत्रकारों को बताया कि राष्ट्रीय आपदा का स्वरूप अख्तियार कर चुके कोरोना वायरस की वजह से सम्मेलन को स्थगित करना पड़ा। उन्होंने प्रधान संगठन के सभी सहयोगियों राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतेंद्र चौधरी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नरेश यादव व विपिन मिश्रा, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुनील लाठर, उत्तर प्रदेश अध्यक्ष  राम सेवक यादव व संगठन के प्रमुख पदाधिकारी बाबा विजेंद्र सिंह तथा युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष अभियांत्रिक नलिन सिंह का आभार प्रकट करते हुए कहा कि सम्मेलन को सफल बनाने के लिए की गई इनकी मेहनत बेहद अनुकरणीय है।

झा ने सम्मेलन की नई तिथि जल्द ही घोषित करने की बात कहते हुए संगठन के पदाधिकारियों का आह्वान किया कि वे अपने अपने इलाके में कोरोना वायरस के प्रति लोगों को जागरूक करें। देश के जाने माने राजनीतिक रणनीतिकार व प्रधान संगठन के राष्ट्रीय संयोजक ने इस बात पर खास तौर पर जोर दिया कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है। जागरुकता फैलाकर इससे सहज ही बचा जा सकता है। झा के मुताबिक सम्मेलन में चूंकि हजारों लोग आने वाले थे ऐसे में जनहित को ध्यान में रखते हुए फिलहाल कार्यक्रम को स्थगित किया गया है।