नई दिल्ली: बहुत जल्द रिलीज होने जा रही फिल्म ‘बाला’ के टॉप स्टारकास्ट- आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम इसके प्रमोषन के सिलसिले में दिल्ली में नजर आए। यहां के द इंपीरियल होटल में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में इन कलाकारों से मीडिया के समक्ष फिल्म से जुड़े अनुभव साझा किए। यह फिल्म 8 नवंबर 2019 को रिलीज होगी।

बता दें कि ‘बाला’ अमर कौशिक द्वारा निर्देशित और दिनेश विजान द्वारा निर्मित एक सटायर फिल्म है। आयुष्मान खुराना ने इसमें कानपुर में रहने वाले एक व्यक्ति की भूमिका निभाई है, जो एलोपेसिया से पीड़ित हैं, और फिल्म की कहानी उनके आत्मविष्वास की कमी और संतुलन के साथ आने वाले सामाजिक दबाव के बारे में है। भूमि पेडनेकर, यामी गौतम, जावेद जाफरी और सौरभ शुक्ल सहायक भूमिकाओं में हैं।

आयुष्मान ने कहा, ‘मुझे हर दिन पूरी मेकअप के साथ तैयार होने में करीब ढाई घंटे लगते थे, क्योंकि मुझे बहुत ही अलग दिखना था। मुझे वास्तव में यह महसूस करने में कि मैंएण्क रोगी हूं, लगभग 4-5 दिन लग गए। दूसरी बात यह है कि इस रोल को निभाने के लिए दर्षकों की एक अलग सहानुभूति की भी जरूरत थी।’

भूमि ने अपने चरित्र के बारे में बताया, ’इसमें मेरे किरदार का नाम है निकिता, जिसने खुद को बहुत ही अच्छी तरह से तैयार किया है, क्योंकि बचपन से ही उसे अपने ष्याम रंग के बारे में काफी ताने और टिप्पणियां सुनने को मिली हैं। ऐसे में वह रंग के बारे में लोगों के सोचने के तरीके को बदलने के लिए एक अलग ही यात्रा पर है।’ उन्होंने यह भी कहा, ‘मेरे निजी जीवन में भी, मेरे पास ऐसे दोस्त हैं जो इस भेदभाव से गुज़रे हैं और उनकी त्वचा के रंग के कारण उनके जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ा है।’

यामी ने फिल्म में अपनी भूमिका के बारे में बताया, ‘फिल्म में मैं एक छोटे शहर की लड़की की भूमिका निभा रही हूं, जिसका नाम परी है। वह अपनी ही दुनिया में रहती है और एक टिक टॉक स्टार है। वह खुद को बहुत खूबसूरत मानती है और वह खुद के बारे में इससे ज्यादा बहुम कुछ नहीं सोचती है। वह खुद को एक परी से कम, लेकिन शारीरिक सुंदरता के बारे में समाज की निर्धारित दकियानूसी सोच को तोड़ने की कोशिश भी करती है।’