लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में देर रात हुई एक बैठक में दिवाली पर खेले जाने वाले जुए को लेकर सख्‍त चेतावनी दी है। उन्‍होंने कहा है कि दिवाली के मौके पर जुआ कराने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए उनके खिलाफ रासुका लगाई जाए और उन्हें जेल भेजा जाए। इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा कि त्‍योहार के समय में खाने-पीने के सामान में मिलावट कर उसे बेचने का प्रयास किया जाएगा, ऐसे में इसे रोकने के लिए जिला प्रशासन, आबकारी विभाग और पुलिस एक संयुक्‍त टीम बना लें।

सीएम ने इस मौके पर जहरीली शराब का मुद्दा भी उठाया और आशंका जताई कि त्‍योहारी सीजन के दौरान इसे भी बेचने की कोशिश की जाएगी। बैठक के दौरान सीएम योगी ने कहा कि बारूद औरपटाखों के कारण कोई दुर्घटना न होने पाए। बारूद के स्टोर और पटाखों के गोदाम और पटाखे बेचेने का काम आबादी वाले इलाके से दूर खुले में करने का निर्देश दिया गया है। सीएम ने पटाखे की दुकान भी आबादी वाले क्षेत्र से दूर लगाने के निर्देश दिए हैं।

सीएम योगी ने उच्‍चाधिकारियों को डीजे बजाने वालों को प्रताड़ित करने की बजाए उन्हें सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के प्रति जागरूक करने को कहा है. सीएम योगी ने कहा है कि त्‍योहार से पहले और उसके बाद साफ-सफाई को लेकर विशेष प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर उसे रोकने की ठोस व्यवस्था होनी चाहिए। दूध, पानी और शराब की पाउच में बिक्री पर सख्ती से रोक लगानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पराली जलाने से हो रहे नुकसान के बारे में किसानों को जागरुक करें और इसमें जनप्रतिनिधियों को भी शामिल करें।