नई दिल्ली : लालकिला ग्राउंड स्थित 15 अगस्त पार्क में विश्व प्रसिद्ध लवकुश रामलीला कमिटी द्वारा आयोजित किए जा रहे रामलीला के सातवें दिन शनिवार को लीला मंचन की शुरुआत लंका दहन के बाद वापस श्रीराम के पास वापसी, उनसे मुलाकात, रावण द्वारा विभीषण को घर से निकालना, राम के शरण में विभीषण का आना, श्रीराम द्वारा समुद्र पूजा एवं सेतु निर्माण, लंका में अंगद का प्रवेश एवं रावण से संवाद, राम को अंगद की ओर से सूचना प्राप्त होना, रणभूमि में मेघनाद का प्रवेश, लक्ष्मण के मूर्छित होने के बाद राम का लिप, हनुमान को संजीवनी बूटी लाने के लिए भेजना, वहां पर हनुमान की कालनेमी से मुलाकात, संजीवनी बूटी लेकर हनुमान का लौटने जैसे प्रसंगों का मनोहारी और भव्य मंचन किया गया।

लीला के अलग-अलग किरदारों में रावण (अवतार गिल), अमित घनश्याम (नारद), गगन मलिक (रामचंद्र), मोहित (लक्ष्मण), मनीष चतुर्वेदी (शिव), अलका तिवारी (पार्वती), अंजना सिंह (सीता) आदि ने अपने-अपने किरदारों में अभिनय के इंद्रधनुषी रंग भरकर लोगों का भरपूर मनोरंजन किया।