वी राज बाबुल

नई दिल्ली। केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा है कि देश में विश्‍व स्‍तरीय खिलाड़ी तैयार करने के लिए विभिन्‍न खेलों के कोचों का एक समूह बनाना बेहद जरूरी है। उन्‍होंने कहा कि देश में विभिन्न खेलों में कोचों का एक समूह बनाया जाएगा क्योंकि विशेषज्ञ कोचिंग और प्रभावी प्रशिक्षण के अभाव के कारण ही भारत में विश्‍व स्‍तरीय खिलाड़ी तैयार नहीं हो पा रहे हैं। राजधानी दिल्ली में आयोजित एक समारोह में विभिन्न संघों, लीगों और कंपनियों से आए हुए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल को संबोधित करते हुए केंद्रीय खेल मंत्री ने यह बात कही।

राठौड़ ने कहा कि देश में विशेषज्ञ कोचिंग और प्रभावी प्रशिक्षण की कमी है और इसी कारण हम विश्व स्तर की प्रतिभा का निर्माण नहीं कर पा रहे हैं। इसलिए खिलाड़ियों की गुणवत्ता में और कोचों के कौशल में सुधार के लिए हम कोचों के एक समूह को तैयार करने हेतु एक कार्यक्रम के निर्माण की योजना बना रहे हैं। इसके लिए हम अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों के साथ जुड़ेंगे।

खेल मंत्री ने कहा, “कोचों का यह समूह खेल विश्वविद्यालयों में एक पाठ्यक्रम को तैयार करने में मदद करेगा। ये पाठ्यक्रम देश के लोगों को सभी खेलों में विशेषज्ञ प्रशिक्षण और कोचिंग तक पहुंचने में मदद करेगा।”