नई दिल्ली। बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री श्रीदेवी का शनिवार रात को दुबई में निधन हो गया। वह 54 साल की थी। वह बॉलीवुड ऐक्टर मोहित मारवाह की शादी में शरीक होने के लिए परिवार के साथ दुबई गई थीं और वहीं दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, श्रीदेवी का पार्थिव शरीर दोपहर 2 बजे तक एयर कार्गो से मुंबई लाया जाएगा।

फिल्म निर्माता बोनी कपूर से शादी करने वाली श्रीदेवी की दो बेटियां जाह्नवी और खुशी हैं। उनके पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी शादी में शरीक होने दुबई में उनके साथ थे। वहीं उनकी बड़ी बेटी जाह्नवी शूटिंग में व्यस्तता की वजह से दुबई नहीं जा पाई थीं।

‘हिम्मतवाला’ के बाद श्रीदेवी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और नायक प्रधान फिल्मों के दौर में उन्होंने ‘मवाली’ (1983), ‘तोहफा’ (1984), ‘मिस्टर इंडिया’ (1987), ‘चांदनी’ (1989), ‘चालबाज़’ (1989), ‘लम्हे’ (1991) और ‘गुमराह’ (1993) जैसी फिल्में दीं। बॉक्स ऑफिस पर हिट कहलाने वाली इन फिल्मों के बीच उनकी फिल्म ‘सदमा’ एक अलग पहचान रखती है। यह फिल्म 1983 में आई थी।

तमिलनाडु में जन्मीं श्रीदेवी के पिता एक वकील थे। उन्हें वर्ष 2013 में देश के चौथे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। श्रीदेवी ने अपने अभिनय की शुरुआत चार साल की उम्र में तमिल फिल्म थुनाइवनसे 1969 में की। मलयालम, तेलुगु ओर कन्नड़ फिल्मों में अभिनय की अपनी सफल पारी के बाद श्रीदेवी दक्षिण भारतीय फिल्मों का एक लोकप्रिय चेहरा बन गईं।

बॉलीवुड में उन्होंने अपना कदम फिल्म सोलवां सावनसे रखा। यह फिल्म 1978 में आई, लेकिन श्रीदेवी को पहचान नहीं दे पाई। पांच साल बाद श्रीदेवी फिल्म हिम्मतवालामें अभिनेता जीतेंद्र के साथ आईं और इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा दी।