सिसवन (सिवान)। बिहार के पर्यटन विभाग  तथा जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में मेहंदार स्थित ऐतिहासिक बाबा महेंद्रनाथ मंदिर परिसर में आयोजित राजकीय समारोह में भगवान शिव पर आधारित अनेक मनोरंजक कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसमें वाराणसी, गोरखपुर और पटना से आए कलाकारों के साथ-साथ स्थानीय कलाकारों ने भी मनोरंजक प्रस्तुति दी।

जिलाधिकारी महेंद्र कुमार के कुशल नेतृत्व में सभी आयोजन शानदार तरीके से  किए गए। सबसे पहले मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया और उसके बाद बाबा महेंद्रनाथ धार्मिक न्यास समिति के तत्वावधान में शिव विवाह से संबंधित झांकी निकाली गई जिसका परिभ्रमण पूरे मेला क्षेत्र में किया गया। जिलाधिकारी महेंद्र कुमार ने विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत भी किया। कलाकारों में पटना की प्रज्ञा श्रीवास्तव और सोनपुर की लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने मनोरंजक प्रस्तुतियों के माध्यम से लोगों को भाव विभोर किया ।

डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने गणेश वंदना मंगल के दाता रहुआ बिगड़ी बनाई जी से अपने कार्यक्रम की शुरुआत करने के बाद का ले के शिव के मनाई हो शिव मानत नाही, भोला के देखेला बेकल भइले जियरा, भक्ति जगा के मन में ओढ ल चुनरिया, चला हो सखियां, चला बाबा के नगरिया, चल हो सखियां,डम डम डमरू बजावे ला हमार जोगिया, अपने महादेव डमरु बजावे ला भूत पिशाच सब नाच करे ला हमरा डर लागेला सहित कई लोक भजन प्रस्तुत करके माहौल को भक्तिमय बनाया।

उन्होंने दहेज प्रथा और बाल विवाह को जड़ से मिटाते हुए बेटियों को आगे बढ़ने का अवसर देने की अपील करते हुए अपने एल्बम बिटिया है अनमोल रतनका गीत गाया:- या रब हमारे देश में बिटिया का मान हो, चले न कोई बेटी अब तो दहेज में, बेटों के जितना ही बेटी की शान हो। लोक गायिका नवगीत के साथ नाल पर मनोज कुमार सुमन, हारमोनियम पर राकेश कुमार, कैसियो पर सुजीत कुमार, तबले पर सुरजीत कुमार पेड़ पर ओम तिवारी और झंझरी पर अजीत कुमार यादव ने संगत किया । इस अवसर पर स्थानीय लोगों की भी भारी भीड़ रही।