नई दिल्ली। गाजियाबाद नगर निगम 17 दिसंबर को होने वाली रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन का साझीदार होगा। गाजियाबाद नगर निगम पहली बार इस हाफ मैराथन से जुड़ा है। हाफ मैराथन का यह तीसरा संस्करण है। इसका आयोजन रोयोन सामाजिक संस्थान ने किया है।

पिछले साल बुलंदशहर के साहेब सिंह ने हाफ मैराथन जीती थी। हाफ मैराथन के अलावा दस किलोमीटर, पांच किलोमीटर व ढाई किलोमीटर की दौड़ भी हगी। इसके अलावा ढाई किलोमीटर पैदल चाल में भी प्रतियोगी हिस्सा लेंगे। खेलों के साथ स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक बनाने के लिए इसका आयोजन किया गया है। मैराथन की शुरुआत वसुंधरा के अटल चौक से होगी। विजेताओं को करीब देढ़ लाख की ट्राफी व इनामी रकम के अलावा डेकाथलन व एटलस साइकिल की तरफ से भी पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा सभी प्रतिभागियों को मेडल और सर्टिफिकेट दिया जाएगा। रोयोन सामाजिक संस्था के प्रवक्ता मलय सौरभ व अमित किशोर ने यह जानकारी दी है।

रोयोने ने इससे पहले हिमाचल प्रदेश और हल्दीघाटी में हाफ मैराथन का आयोजन भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के सहयोग से किया था। हाफ मैराथन महिला व पुरुष दोनों वर्गों में होगा। कई सामाजिक संगठनों ने रन टू ब्रीथ को सफल बनाने के लिए रोयोन से हाथ मिलाया है। इसके अलावा स्थानीय पार्षदों व नागरिकों ने भी इस आयोजन को लेकर उत्साह दिखाया है। मलय ने बताया कि हाफ मैराथन का मकसद युवा खेल प्रतिभाओं की तलाश के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण, स्वच्छता और पर्यटन को बढ़ावा देना है। रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन में देश भर के धावक हिस्सा लेंगे। सौरभ के मुताबिक रन टू ब्रीथ हाफ मैराथन में करीब तीन हजार धावकों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। आस्क योर ट्रिप्स, मिसाकी, यूटीआई म्युचुअल फंड, स्पर्श, आर्थोशेड, कमल अस्पताल, एलेक्ट्रोबियोन, डेकाथेलान और आईसीआईसीआई प्रुडेनशियल, सिटीअस हालीडेज, फार्म विले, गोल्डन ट्यूलिप व एटलस साइकिल मैराथन के साझीदार हैं।