लोनी। आजाद उम्मीदवार के रूप में वार्ड नंबर 55 से उगता सूरज चुनाव चिन्ह के साथ चुनावी मैदान में उतरकर प्रतिद्वंद्वियों की सांसे रोक देने वाले मेहरबान अली ने 18 वादों का एक संकल्प पत्र जारी किया है।
इस संकल्प पत्र में किये गये वादों ने वार्ड की जनता पर अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। नतीजा समाजसेवी के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले मेहरबान अली के पक्ष में जनता लामबंद होने लगी है। यही नहीं, लोनी इलाके में नगर पालिका के ठेकेदारों द्वारा वाहन चालकों से पार्किंग व बिल्ला पर्ची के नाम पर अवैध वसूली को हमेशा के लिए बंद करा देने वाला आंदोलनकारी संगठन अखिल भारतीय मजदूर कल्याण संघ भी खुलकर मेहरबान अली के पक्ष में सामने आ गया है। इस संगठन का साथ मिलने से मेहरबान अली की जीत की राह कुछ और आसान हो गई है।
मेहरबान अली ने अपने घोषणा पत्र में जिन मुख्य बातों का जिक्र किया है, उनमें जीत के 15 दिन के भीतर वार्ड की सभी बिरादरी के वरिष्ठ व जिम्मेदार लोगों को साथ लेकर एक विकास समिति का गठन कर उनके परामर्श से बिना किसी भेदभाव के चहुंमुखी विकास करने का वादा किया गया है। इसी के साथ वार्ड में सरकारी डिस्पेंसरी, बारातघर, जरूरतमंद बच्चों के लिए निःशुल्क ट्यूशन सेंटर की स्थापना व मरीजों के लिए निःशुल्क एंबुलेंस सेवा शुरू करने का भी वादा किया गया है।
अपने निजी खर्चे से इलाके में कई सारे विकास कार्य कराने वाले मेहरबान अली के वादों पर स्थानीय जनता आंख मूंदकर भरोसा कर रही है। क्योंकि उसे पता है कि जो आदमी बगैर किसी पद पर रहे अगर वार्डवासियों के हित के लिए इतना काम कर सकता है तो सभासद चुने जाने के बाद क्या कुछ नहीं करेगा। बहरहाल, कुल मिलाकर मेहरबान अली को जीत के करीब पहुंचते देखकर विपक्षी उम्मीदवारों के बीच हड़कंप मचा हुआ है।